बम भोले,यही वो तंत्र है, यही वो मन्त्र है

बम भोले, बम भोले, बम बम बम
यही वो तंत्र है, यही वो मन्त्र है
प्रेम से जपोगे तो मिटेंगे सारे गम – बम भोले….

कभी योगी कभी भोगी, कभी बाल ब्रह्मचारी
कभी आदि देव, महादेव, त्रिपुरारी
कभी शंकर, कभी शम्भू , कभी भोले भंडारी
नाम अनंत तोरे जग बिलहारी
शिव का नाम लो, सुबह शाम लो
जपते रहो जब तक दम में है दम – बम भोले….

दक्ष प्रजापति जब हुंकार, त्रिशूल से शीश उतारा
माफ़ी मांगी होश में आओ, बकरे का जब शीश लगायो
आशुतोष भोले बाबा भये प्रसन्न – बम भोले….

कला तित कल्याण कल्पान्त कारी
सदा सज्ज्नानंद दाता पुरारी
चिदानंद संदोह मोहा पहारी
चिदानंद प्रसीद प्रभो मन्महारी
ध्यान लगाई के ज्योत जलाई के
शिव को पुकारते, चलो जी हर दम – बम भोले…

खेल रही है जटा मैं गंगा
बाजे डमरू पिकर भंगा
वस्र खाल बाघम्बर अंगा
मेरो भोला मस्त मलंगा
‘गुरुदास’ मांगे तेरी नजरें कर्म – बम भोले….

अपना लक्ष्य हासिल करें - 33 Tips to Achieve Goal क्या आप अपने लक्ष्य को पाना चाहते हैं? तो इसका जवाब होगा हाँ तभी तो आप यहाँ हैं।

प्रेरणादायक शायरी - Best 365 selected motivational quotes for you to share with your friends and family members.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *