Tag: Shri Ram Bhajan

रामा केहि विधि आऊं मैं पास तिहारेVerified Lyrics 

रामा केहि विधि आऊं मैं पास तिहारे रामा केहि बिधि, रामा केहि बिधि बादर बन उड़ जाऊं अवध को बरसी बरसी पखारू चरण को मोर बनूँ उत नाच दिखाऊं रामा केहि बिधि आऊं मैं पास तिहारे बनूँ शिला जो तुम चरण छुआ दो बांस बन जाऊं तुम धनु ही बना लो काठ होय बनी जाऊं

दाता नहीं है श्रीराम के जैसा,Verified Lyrics 

दाता नहीं है श्रीराम के जैसा, सेवक नहीं है हनुमान के जैसा, आंख उठा कर देखा जग में सारा जगत भिखारी, काम क्रोध मद लोह मोह में लिपटे सब नर नारी, पाप नहीं कोई अभिमान के जैसा, दाता नहीं है श्री राम के जैसा, पड़ कर देखो रामायण बस एक ही बात सिखाये, वो नर

जो खेल गए प्राणों पे, श्री राम के लिए,Verified lyrics 

जो खेल गए प्राणों पे, श्री राम के लिए, एक बार तो हाथ उठालो, मेरे हनुमान के लिए, जो खेल गए प्राणो पे, श्री राम के लिए एक बार तो हाथ उठालो, मेरे हनुमान के लिए।। सागर को लांघ के इसने, सीता का पता लगाया, प्रभु राम नाम का डंका, लंका में बजा के आया,

करो भजन मत डरो किसी सेVerified Lyrics 

करो भजन मत डरो किसी से, ईश्वर के घर होगा मान इसी भजन से, राम भजन से हृदय में उपजैगा ज्ञान॥टेर॥ भजन कियो प्रह्लाद भक्त नै, बार बार कारज सार्यो। हिरणाकुश नै, हा असुर नै, राम नाम लाग्या खारा॥ हिरणाकुश यूँ कही पुत्र सँ बचन नहीं मान्या मेरा। तोय भी मारता, बता सच, राम नाम

राम भजा सो जीता जग में,Verified Lyrics 

राम भजा सो जीता जग में, राम भजा सो जीता रे। ​हृदय शुद्ध नही कीन्हों मूरख, कहत सुनत दिन बीता रे। राम भजा सो जीता जग में … हाथ सुमिरनी, पेट कतरनी, पढ़ै भागवत गीता रे। हिरदय सुद्ध किया नहीं बौरे, कहत सुनत दिन बीता रे। राम भजा सो जीता जग में … और देव

जय राम, जन्म सफल होगा बन्देVerified Lyrics 

बोलो राम जय जय राम, जन्म सफल होगा बन्दे, मन में राम बसा ले, हे राम नाम के मोती को, सांसो की माला बना ले, राम पतित पवन करुनाकर, और सदा सुख दाता, सरस सुहावन अति मनभावन, राम से प्रीत लगा ले, मन में राम बसा ले, मोह माया है झूटा बन्धन, त्याग उसे तू

ओ मनवा राम सुमेर ले रे ओ जीवड़ा राम सुमेर ले रे✓ Lyrics Verified 

ओ मनवा राम सुमेर ले रे, ओ जीवड़ा राम सुमेर ले रे आसी तेरे काम नाम कीरे, बालद(बोगी) भर ले। बालद भर ले रे मेरे मनवा, बालद भर ले रे, बालद भर ले रे ओ मनवा राम सुमेर ले रे , ओ जीवड़ा राम सुमेर ले रे आसी तेरे काम नाम की, बालद भर ले।

क्या लेकर तूं आया जगत में , क्या लेकर तूं जायेगा।Lyrics Verified 

टेर : क्या लेकर तूं आया जगत में , क्या लेकर तूं जायेगा। सोच समझ ले – रे ,मन मूरख आखिर में पछतावेगा।। भाई बन्धु और मित्र प्यारे , मर्घट तक संग जायेंगे , सवार्थ के दो आंसू देकर लॉट -लॉट घर आवेंगे , कोई न तेरे साथ चलेगा ,एक अकेला जावेगा। क्या लेकर तूं…..

नर खोव मतना रे काया दुपटो जरी को✓ Lyrics Verified 

दोहा : धन चाहे तो दान कर मुक्ति चाहे तो भज राम हाड़ मास का पुतला बिन भजन किस काम टेर : नर खोव मतना रे काया दुपटो जरी को। नर जपले क्योनी रे सांचो नाम हरी को।। नर खोव मतना रे……।1। काम न करयो तो, मने धोखो कोणी आवे। मन धोखो आवे रे, माया

क्या लेकर तूं आया जगत में, क्या लेकर तूं जावेगा✓ Lyrics Verified 

टेर : क्या लेकर तूं आया जगत में, क्या लेकर तूं जावेगा सोच समझ ले रे मन मुर्ख, आखिर में पछतावेगा भाई बन्धु और मित्र प्यारे, मर्घट तक संग जायेगे सवार्थ के दो आंसू देकर, लौट लौट घर आवेगे कोई न तेरे साथ चलेगा, एक अकेला जावेगा क्यों जग में अभिमान करे तूँ और कहे