अँखियों में नमीं सी हो, दिल बेठा हो हार के-2 जब कुछ ना नज़र आये, मुझे तू हीं नज़र आये जब गम के अँधेरे हों, बंद हों सारे रास्ते-2 मुझे कुछ ना नज़र आये, बस तू ही नज़र आये एक तू ही मेरी आस है, एक तू ही सहारा तेरे नाम से बाबा मेरा, चलता