Tag: Jagjeet Singh

वन्दे गणपति विघ्नविनाशन

वन्दे गणपति विघ्नविनाशन…4 हे लम्बोदर गजानना रिद्धि सीधी के दाता तुम हो…4 वन्दे गणपति विघ्नविनाशन…2 हे लम्बोदर गजानना हे लम्बोदर गजानना जो ध्यावे वंचित फल पावे..4 आगरा देव तुम्हे वन्दना..2 वन्दे गणपति विघ्नविनाशन…2 हे लम्बोदर गजानना रिद्धि सीधी के दाता तुम हो हे शशि शेखर नंदना वन्दे गणपति विघ्नविनाशन…2 हे लम्बोदर गजानना काम क्रोध मध्

जय हो गणपति पूजे तुम्हे देवता सभी

जय हो गणपति जय हो गणपति पूजे तुम्हे देवता सभी जय हो गणपति जय हो गणपति शिव के दुलारे जग से न्यारे पारवती माँ की अँखियो के तारे हम तेरी उतारे आरती जय हो जय हो गणपति गणपति गजमुख धरी मूषक की सवारी सिद्धि बुद्धि खडी सेवा में तुम्हारी तेरा अंश है शुभ लाभ भी

जय जय गणपति भक्तन हितकारी

ॐ गान गणपतये नमः…4 ॐ गान गणपतये नमः…4 जय जय गणपति भक्तन हितकारी……4 जय जय गणपति भक्तन हितकारी भवानी नंदन सब दुःख भझन पुराण करता कारज सारे ……2 जय जय गणपति भक्तन हितकारी…2 ॐ गान गणपतये नमः…4 विघ्नविनाशक सुबह फल दायक ……4 मंगल मूरति अश्था विनायक ……2 जय जय गणपति भक्तन हितकारी…2 भवानी नंदन सब

गये गणपति जगवंदन

गये गणपति जगवंदन……2 शंकर सुवन भवानी नंदन……2 गये गणपति जगवंदन…… शंकर सुवन भवानी नंदन सिद्धि सदन गजवदन विनायक……2 कृपा सिंधु सुन्दर सब नायक शंकर सुवन भवानी नंदन……2 गये गणपति जगवंदन मोदहा प्रिय मुद मंगल दाता……4 विद्या वारिधि बुद्धि विधाता शंकर सुवन भवानी नंदन……2 गये गणपति जगवंदन माँगत तुलसीदास कर जोर……3 बसहि रामसिया मानस मोरे शंकर

हे राम हे राम जग में साचो तेरो नाम

हे राम, हे राम जग में साचो तेरो नाम हे राम, हे राम ◾️ तू ही माता, तू ही पिता है तू ही तो है राधा का श्याम हे राम, हे राम ◾️ तू अंतर्यामी, सबका स्वामी तेरे चरणों में चारो धाम हे राम, हे राम ◾️ तू ही बिगड़े, तू ही सवारे इस जग

जनम सफल होगा रे बन्दे, मन में राम बसा ले

जनम सफल होगा रे बन्दे,मन में राम बसा ले मन में राम बसा ले,भोले राम आजा राम भोले राम जय राम राम के मोती को,साँसों की माला बना ले मन में राम बसा ले॥ राम पतितपावन करुनाकर और सदा सुखदाता भोले राम आजा राम भोले राम राम पतितपावन करुनाकर और सदा सुखदाता सरस सुहावन, अति