Tag: Durga Maa Bhajan

निकल न जाए हाथ से तेरे मौका ये अनमोल,Verified Lyrics 

निकल न जाए हाथ से तेरे मौका ये अनमोल, जय माता दी बोल बंदे जय माता दी बोल | आके देख ले सजा दरबार अम्बे रानी का, सुख वरदानी का जग कल्याणी का, देती छप्पर फाड़ के मैया झोली ले तू खोल, जय माता दी बोल बंदे जय माता दी बोल| कौन जाने कब नसीबा

अस्सी तेरे तेरे झंडेवाली माँVerified Lyrics 

अस्सी तेरे तेरे झंडेवाली माँ रखले गरीब जानके तेरे सिवा सड़ा होर न कोई, तेरे दर वाजो किते मिलदी न धोई, ऐसी नौकर तेरे झंडेवाली माँ रखले गरीब जानके, जद भी भुलावे दाती तेरे दर आवा, भगता दे नाल बह के गुण तेरे गावा, साहनु सेवा च लगा ले झण्डेवालिये रख ले गरीब जान के,

तेरे दर का मैं बनके सवाली, मैया जी तेरे दवारVerified lyrics 

तेरे दर का मैं बनके सवाली, मैया जी तेरे दवार आ गया, मेरी अर्ज सुनो माँ झंडेवाली, मैया जी तेरे दवार आ गया। तेरे मंदिरों की मैया शोभा नयारी, दर पे जो आया कभी दीन भिखारी, गया दर से कभी न कोई खाली, मैया जी तेरे दवार आ गया…..। तेरे पुजारियों को मिले तेरा प्यार

शरण तेरी आऊँ माँ, हाँ बलि बलि जाऊँ माँ

शरण तेरी आऊँ माँ, हाँ बलि बलि जाऊँ माँ भजन तेरे गाऊँ माँ, मगन हो जाऊँ माँ शरण तेरी आऊँ माँ, हाँ बलि बलि जाऊँ माँ || ऊँचे भवन पर बैठी, अम्बे के भवानी माँ जिनके दर्श की है ये, दुनिया दीवानी माँ दर्श तेरे पाऊँ माँ, हाँ बलि बलि जाऊँ माँ भजन तेरे गाऊँ

कभी दुर्गा बनके कभी काली बनके

कभी दुर्गा बनके कभी काली बनके चली आना मैया जी चली आना तुम दुर्गा रूप में आना-2 सिंग साथ ले के चक्कर हाथ लेके चली आना मैया जी चली आना कभी दुर्गा बनके कभी काली बनके चली आना मैया जी चली आना तुम काली रूप में आना-2 खप्पेर हाथ लेके योगी साथ लेके चली आना

कभी दुर्गा बनके कभी काली बनकेVerified Lyrics 

कभी दुर्गा बनके कभी काली बनके चली आना मैया जी चली आना -2 तुम दुर्गा रूप में आना सिंग साथ ले के चक्कर हाथ लेके चली आना मैया जी चली आना कभी दुर्गा बनके कभी काली बनके चली आना मैया जी चली आना तुम काली रूप में आना खप्पेर हाथ लेके योगी साथ लेके चली

भोर भई दिन चढ़ गया मेरी अम्बेVerified Lyrics 

भोर भई दिन चढ़ गया मेरी अम्बे… 2 हो रही जय जय कार मंदिर विच आरती जय माँ । हे दरबारा वाली आरती जय माँ, ओ पहाड़ा वाली आरती जय माँ काहे दी मैया तेरी आरती बनावा… 2 काहे दी पावां विच बाती मंदिर विच आरती जय माँ । सुहे चोले वाली आरती जय माँ,

जैकारा शेरोंवाली का, दुर्गा है मेरी माँ,

जैकारा शेरोंवाली का बोल सांचे दरबार की जय दुर्गा है मेरी माँ, अंम्बे है मेरी माँ दुर्गा है मेरी माँ, अंम्बे है मेरी माँ…2x ओ बोलो जय माता की, जय हो ओ बोलो जय माता की, जय हो जो भी दर पे आये, जय हो वो खली न जाये, जय हो सब के काम हैं

श्री दुर्गा चालीसा – नमो नमो दुर्गे सुख करनी। नमो नमो दुर्गे दुःख हरनी

नमो नमो दुर्गे सुख करनी। नमो नमो दुर्गे दुःख हरनी॥ निरंकार है ज्योति तुम्हारी। तिहूँ लोक फैली उजियारी॥ शशि ललाट मुख महाविशाला। नेत्र लाल भृकुटि विकराला॥ रूप मातु को अधिक सुहावे। दरश करत जन अति सुख पावे॥1॥ तुम संसार शक्ति लै कीना। पालन हेतु अन्न धन दीना॥ अन्नपूर्णा हुई जग पाला। तुम ही आदि सुन्दरी

माँ वीणा पानी हो विद्या वरदानी हो।

माँ वीणा पानी हो, विद्या वरदानी हो, मेहरो वाली हो, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, ओ माँ, अपने भक्तो की, अपने बच्चो की तुम रखवाली हो, मेरी माँ, ओ माँ।। ◾️नाम है जितने माता तुम्हारे, एक रूप के हे जगदम्बे, रूप अनेको सारे, शारदे माँ हो तुम, लक्ष्मी माँ हो तुम, कहीं पे काली