राम भजन कर मन, ओ मन रे कर तू राम भजन।

राम भजन कर मन,
ओ मन रे कर तू राम भजन।

◾️ सब में राम, राम में है सब,
तुलसी के प्रभु, नानक के रब्ब।
राम रमईया घट घट वासी,
सत्य कबीर बचन॥

◾️ राम नाम में पावत पावन,
रवि तेज्योमय चन्द्र सुधा धन।
राम भजन बिन ज्योति ना जागे,
जाए ना जीय की जरन॥

◾️ नाम भजन में ज्योति असीमित,
मंगल दीपक कर मन दीपित।
सकल अमंगल हरण भजन है,
सकल सुमंगल करन॥

We Brought a All in One Wishes App for you. Download now!

हम आपके लिए लाए है सम्पूर्ण व्रत कथा ऐप। अभी डाउनलोड करें!

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *