पायो निधि राम नाम, पायो निधि राम नाम।

पायो निधि राम नाम, पायो निधि राम नाम।
सकल शांति सुख निधान, सकल शांति सुख निधान॥
पायो निधि राम नाम…

◾️ सुमिरन से पीर हरै, काम क्रोध मोह जरै।
आनंद रस अजर झरै, होवै मन पूर्ण काम॥
पायो निधि राम नाम…

◾️ रोम रोम बसत राम, जन जन में लखत राम।
सर्व व्याप्त ब्रह्म राम, सर्व शक्तिमान राम॥
पायो निधि राम नाम…

◾️ ज्ञान ध्यान भजन राम, पाप ताप हरण नाम।
सुविचारित तथ्य एक, आदि मध्य अंत राम॥
पायो निधि राम नाम…

गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएं

कृष्ण जन्माष्टमी शायरी कार्ड -2019

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *