होकर लीले पे सवार, हो… आजा सांवरिया सरकारVerified lyrics 

होकर लीले पे  सवार, हो… आजा सांवरिया सरकार
थारी ज्योति जगाई जी, जगाई ओ थारी ज्योत जगाई जी
होके लीले पर सवार…..

घणा दिन सु आश लग रही, मन में चाव हे भारी,
आंगनिये पधारो बाबा, बाट उडीका थारी,
थारे आया बणसी बात, आकर रख दो सर पर हाथ,
थारी ज्योत जगायीजी ……

दुःख सुख की बात्ता करनी हे, थासु भोत कन्हैया,
प्रीत लगाकर ना बिसराओ , हंस देगी या दुनिया,
मन में करल्यो सोच विचार,महारा खाटू का सरदार,
थारी ज्योत जगाई जी……

सूत्या हो तो जागो बाबा, जागो हो तो आओ,
मन को धीरज छुट्यो जावे, मतना देर लगाओ,
थे हो भगता का आधार ,आकर थाम लेवो पतवार,
थारी ज्योति जगाई जी..

हम आपके लिए लाए है सम्पूर्ण व्रत कथा ऐप। अभी डाउनलोड करें!

इस ऐप में 30+ आरती का संग्रह है। इसमें सभी प्रमुख देवी देवता की आरती शामिल की गई है। Download now!

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *