ओ महावीर बजरंगी मैं आया शरण तिहारी।Lyrics Verified 

दोहा : शरण शरण मैं आपकी, महावीर हनुमान,
शरण पड़े को आन उबारों, पवन पुत्र बलवान।

टेर : ओ महावीर बजरंगी, मैं आया शरण तिहारी।

शरण तिहारी मैं आया हूँ, संग में संकट लाया हूँ,
अनजाने में फिरा भटकता, पहले बहुत दुःख पाया हूँ,
अब संकट हर ले मेरा, ओ संकट मेटन हारी ।
ओ महावीर बजरंगी….

मैंने सुना है द्वार तेरे से, खली कोई न जाता है
सच्चे मन से आता है वो, मन इच्छा फल पाता है
मैं भी सच्चे मन से आया, तेरे दर पर एक भिखारी।
ओ महावीर बजरंगी….

राम नाम की भिक्षा देकर, सदा दयालु बने रहना,
गृहस्थ की गाड़ी मेरी चले ठाट से, यही हमारा है कहना,
हमे ईश्वर भक्ति देना, ये सुनियो अर्ज हमारी।
ओ महावीर बजरंगी….

भव सागर में हो नैया हमारी, तो अपने हाथों से खेना
दशों दिशाओ में डोले नैया तो मुक्ति की राह लगा देना
मैं सेवक तेरा अनाड़ी ओ बाल जति ब्रह्मचारी।
ओ महावीर बजरंगी….

भूल चूक करता रहता हूँ, उसकी माफ़ी चाहता हूँ
भला बुरा जैसा भी हूँ तेरे चरण शीश झुकता हूँ
ये भक्त तेरा स्वामी, तेरे चरणों पर बलिहारी।
ओ महावीर बजरंगी….

हम आपके लिए लाए है सम्पूर्ण व्रत कथा ऐप। अभी डाउनलोड करें!

We Brought A Calc App that can help you to calculate you Loan Amount through EMI!
EMI to Loan Calculator
EMI to Loan Calculator
Developer: finstack
Price: Free

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *