उड़ जा काले कावा उड़के मैया के भवन में जाना।

जा उड़ जा कालेया कांवा, उड़ मईया के भवन जाना।
मेरे दिल की बातें जा के मां को बतलाना।
हो राहें तेरी तकते तकते(एएएए–एएए)
हो राहें तेरी तकते तकते, सारी उम्र गुजारी,
आजा मां इकबारी आजा, करके शेर सवारी,
मेरे घर आ मा..ता, आ दुखड़े मिटा माता-2।।

मां आ…….. आओ माँ
मां आ…….. आओ माँ

◾️तेरी पूजा तेरी साधना, ध्यान तेरा हर दम-2,
तेरी भक्ति छोड़ी कभी ना, ख़ुशी रही चाहे गम,
बेटे की सुध ली ना तुमने(एएएए–माँ)
बेटे की सुध ली ना तुमने, याद ना मेरी आई,
भूल हुई गर भूले से भी, माफ़ करो महामाई,
मेरे घर आ माता, आ दुखड़े मिटा माता-2।।

मां आ…….. सुनले माँ
मां आ…….. सुनले माँ

◾️सुना है शरण पड़े की तुम हो, लज्जा रखने वाली-2,
तुझसे ही पाता हरियाली, हर पत्ता हर डाली,
अटके जब मझधार में नईया(ओ..ओओ..ओ)
अटके जब मझधार में नईया,बन जाती हो किनारा,
तेरी एक झलक को तरसे, कबसे लाल तुम्हारा,
मेरे घर आ माता, आ दुखड़े मिटा माता-2।।

मां आ…….. आओ माँ
मां आ…….. आओ माँ

◾️ना चंदन की चौकी घर में, ना मखमल का बिछोना-2,
बिखरा किस्मत की ही तरह मेरे, घर का कौना कौना,
हलवा पूड़ी मेवा मिश्री(ओ..ओओ..ओ), ‘लक्खा’ फल ना फूल,
हलवा पूड़ी मेवा मिश्री, ‘लक्खा’ फल ना फूल,
तर जायेगा ‘सरल’ भी पाकर, तेरे चरण की धूल,
मेरे घर आ माता, आ दुखड़े मिटा माता-2।।

जा उड़ जा कालेया कांवा, उड़ मईया के भवन जाना।
मेरे दिल की बातें जा के मां को बतलाना।
हो राहें तेरी तकते तकते(एएएए–एएए)
हो राहें तेरी तकते तकते, सारी उम्र गुजारी,
आजा मां इकबारी आजा, करके शेर सवारी,
मेरे घर आ मा..ता, आ दुखड़े मिटा माता-4।।

इंटरनेट से पैसे कमाएं हम आपको बताएँगे ऐसे आईडिया जिनसे आप इंटरनेट के माध्यम से घर बैठे आसानी से पैसे बना सकते है।

गीता की 151 चुनिंदा पंक्तियों का संकलन| आशा है की यह पंक्तियाँ आपने जीवन में सकारात्मकता का संचार करेगी| जय श्री कृष्णा !

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *