Category: Hanuman Bhajan

राम के दास रस्ता दिखा दो राम जी से मुझे तुम मिला दो

राम के दास रस्ता दिखा दो राम जी से मुझे तुम मिला दो हाथ जोड़े मैं कब से खड़ा हूँ गलतियों को मेरी तुम भुला दो राम के दास रस्ता दिखा दो।। ◾️रोया जब भी तुम्ही ने संभाला हर मुसीबत से बाहर निकाला रोया जब भी तुम्ही ने संभाला हर मुसीबत से बाहर निकाला मुझको

केसरी के लाडले सुनो हनुमान जी हमें है तुम्हारा आसरा।

केसरी के लाडले सुनो हनुमान जी हमें है तुम्हारा आसरा।। केसरी के लाडले प्यारे हनुमान जी केसरी के लाडले सुनो हनुमान जी हमें है तुम्हारा आसरा देखा है हमने सारा ही जहाँन ये तुमसे ना कोई दूसरा हो प्यारे हनुमान आके करो कल्याण केसरी के लाडले सुनो हनुमान जी हमें है तुम्हारा आसरा।। सदा ठोकरे

रघुवर का सेवक पुराना लगता है हमको तो ये राम दिवाना लगता है

रघुवर का सेवक पुराना लगता है हमको तो ये राम दिवाना लगता है ज्यादा ना देखो नजर लग जायेगी किर्तन की ये रात दोबारा आयेगी रघुवर का सेवक पूराना लगता है।। ◾️क्या क्या किया श्रीराम ने हनुमान के खातिर क्या क्या किया हनुमान ने श्रीराम के खातिर मुश्किल शब्दों में बताना लगता है हमको तो

छम छम नाचे देखो वीर हनुमाना, कहते है लोग इसे राम का दीवाना।

छम छम नाचे देखो वीर हनुमाना, कहते है लोग इसे राम का दीवाना।। राम राम सियाराम, राम राम सियाराम। पाँव मे घुंगूरू बाँध के नाचे, राम जी का नाम इन्हे प्यारा लागे, राम जी ने देखो इन्हे खूब पहचाना, छम-छम नाचे देखो वीर हनुमाना, कहते है लोग इसे राम का दीवाना।। राम राम सियाराम, राम

चुटकी बजाय हनुमान देखो चुटकी बजाय हनुमान

चुटकी बजाय हनुमान देखो चुटकी बजाय हनुमान करने लगे सब सेवा श्री राम की, छोटी सी सेवा बस देखो हनुमान की, हे भोला बड़ा नादान कुछ सोचा नही परिणाम, चुटकी बजाय हनुमान देखो चुटकी बजाय हनुमान।। वाह वाह प्रभु श्री राम के दीवाने बेठ गया छत पर चुटकी बजाने चाहे दिन हो चाहे रात,चाहे सुबह

कौन काटता राम के बंधन जो हनुमान ना होते

कौन काटता राम के बंधन जो हनुमान ना होते जो हनुमान ना होते कौन काटता राम के बंधन जो हनुमान ना होते।। राम और रावण युद्ध हुआ हनुमान ने रक्षा किन्ही हनुमान ने रक्षा किन्ही लक्ष्मण को शक्ति लागि ला संजीवनी दीन्हि ला संजीवनी दीन्हि कौन बचाता लक्ष्मण जी को जो हनुमान ना होते जो

कितना प्यारा तुझे भक्तोँ ने सजाया जी करे देखता रहूँ।

कितना प्यारा तुझे भक्तोँ ने सजाया कितना प्यारा तुझे भक्तोँ ने सजाया जी करे देखता रहूँ। कितना सोणा तुझे भक्तोँ ने सजाया जी करे देखता रहूँ। तू है दयालु है दाता तू है राम का पुजारी सबसे प्यारा मेरा बाबा है शिव का अवतारी॥ कितना प्यारा तुझे भक्तोँ ने सजाया जी करे देखता रहूँ। मस्तक

रखवाला प्रतिपाला मेरा लाल लंगोटे वाला कदम कदम पर रक्षा करता

रखवाला प्रतिपाला मेरा लाल लंगोटे वाला कदम कदम पर रक्षा करता कदम कदम पर रक्षा करता घर घर करे उजाला रखवाला प्रतिपाला मेरा लाल लंगोटे वाला।। ◾️निशदिन तेरा ध्यान लगाऊं जपूँ आपकी माला धुप दिप नित ज्योत जगाऊँ धुप दिप नित ज्योत जगाऊँ पड़े ना यम से पाला रखवाला प्रति-पाला मेरा लाल लंगोटे वाला।। ◾️मन

ये माँ अंजनी का लाला ये माँ अंजनी का लाला है देव बड़ा बल वाला

ये माँ अंजनी का लाला ये माँ अंजनी का लाला है देव बड़ा बल वाला और ना कोई कर पाया जो वो इसने कर डाला ◾️बालापन में सूरज को जब समझ के फल था मुख लिया बदल दिया था नियम श्रष्टि का दिन में भी था अँधेरा किया विनती करि मिल देवो ने तब मुह

ओ लाल लंगोटे वाले प्रभु तेरे रूप निराले

ओ लाल लंगोटे वाले प्रभु तेरे रूप निराले तेरी मूरत मन को भाये सिंदूरी श्रंगार पे बाबा हम सब बलि बलि जाये ओ लाल लंगोटे वाले प्रभु तेरे रूप निराले।। शिव शंकर के रूद्र रूप में अंजनी घर अवतारे नारायण के रक्षक बनकर उनके कारज सारे राम के काज सवारन को कोई तुमसा नजर ना